लालची आदमी की कहानी | kid story in hindi-best kid story

लालची आदमी की कहानी

Kid story in hindi | best kid story in hindi

एक बार एक आदमी था। वह बहुत ही लालची था। उसने सुना था। कि साधु और संतों की सेवा करने से बहुत सारा धन आता है। तो उसने साधु संतो की सेवा करना शुरू कर दिया। एक दिन उसके घर में बहुत चमत्कारी संत आए तो उस आदमी ने उनकी बहुत सेवा करें संत ने उस आदमी से खुश होकर उसे चार दीये दिए और उस आदमी से कहा कि तुम एक दिए को जला कर पूर्व दिशा की ओर चलने लग जाना जहां पर यह दिया बुझे गा वहां पर तुम जमीन में खोजना तो तुम्हें बहुत सारा धन प्राप्त होगा।
Kid story in hindi | best kid story in hindi kid story in hindi best kid story in hindi
kid story in hindi


बढ़ता लालच ( kid story in hindi)
 अगर फिर भी तुम्हें कभी धन की कमी हो तो तुम दूसरा दिया जलाना और पश्चिम दिशा की ओर चलने लग जाना जहां पर वह दिया मुझे वहां पर जमीन में खोजना तो तुम्हें बहुत सारी माया मिलेगी। अगर फिर भी तुम संतुष्ट ना हो तो तुम तीसरा दिया जलाना और दक्षिण दिशा की ओर चलने लग जाना जहां पर दिया पूछेगा वहां पर जमीन में खोजना तुम्हें बहुत सारा और धन मिलेगा लेकिन एक बात का ध्यान रखना तुम्हारे पास सिर्फ एक दिया रह जाएगा तुम्हें उस चौथे दिए को नहीं जलाना यह कहकर संत वहां से चले गए।
फिर उस लालची आदमी ने पहला दिया जलाया और पूर्व दिशा की ओर चलने लग पड़ा बहुत दूर जंगल में जाकर वह दिया बुझ गया तो उसने जहां पर दिया पूछा था वहां पर जमीन में खोदना शुरू कर दिया तो उसे एक पैसों से भरा बैग मिला उसने सोचा कि अभी मैं दूसरे खजाने को भी देख लेता हूं इस बैंक में यही जंगल में छुपा देता हूं।
 तो दूसरे दिन उसने दूसरा दिया जलाया और पश्चिम दिशा की ओर चल पड़ा वह चलते-चलते एक सुनसान से जगह में पहुंच गया और सुनसान जगह में दीया बुझ गया तो उसने वहीं पर जमीन खोदना शुरू कर दिया तो उसे एक सोने से भरा हुआ मटका मिला फिर उसने सोचा मैं तीसरे खजाने को भी देख लेता हूं इसे अभी कहीं पर छुपा कर रख देता हूं तो उसने सोने से भरे हुए मटके को वहीं पर छुपा दिया। फिर उस आदमी ने तीसरा दिया जलाया और दक्षिण की ओर चल पड़ा चलते चलते वह एक मैदान में पहुंच गया मैदान में जाकर दिया बुझ गया दीया के वास्ते ही उसने मैदान में खोजना शुरू कर दिया तो उसे सोने हीरो से भरी हुई एक पेटी मिली। यह देखकर उसने ओर लालच आ गया।

लालच पड़ा भारी ( kid story in hindi )
उसके मन में ख्याल आया कि अगर 3 अलग दिशा में जाने पर मुझे इतना सारा धन मिला है चौथे जिओ को चलाकर मैं उत्तर दिशा की ओर जाता हूं क्या पता मुझे इससे भी ज्यादा धन मिल जाए। उसने संत की बात नहीं मानी। और वह चौथे दिए को जलाकर उत्तर दिशा की ओर निकल पड़ा चलते चलते वह एक महल की तरफ पहुंच गया जैसे ही वह महल के करीब गया दिया वहां जाकर बुझ गया उसने सोचा यह महल मेरे लिए ही है तो उसने महल के दरवाजे को धक्का दिया महल का दरवाजा खुल गया वह महल के अंदर चला गया और हर कमरे को जाकर चेक करने लगा। उसे हर किसी कमरे में कुछ ना कुछ मिलता था एक कमरे में उसे पूरा सोना मिला दूसरे कमरे में उसे बहुत सारे हीरे मिले तीसरे कमरे में उसे बहुत सारी सोने की बनी मूर्तियां मिली फिर उसे एक कमरे से चक्की चलाने की आवाज सुनाई देने लगी। उसने चेक की आवाज सुनी और दरवाजा खोल दिया जैसे ही उसने दरवाजा खोला उसे एक बूढ़ा आदमी दिखा जो चक्की चला रहा था। तो वे उस बूढ़े आदमी के पास गया तब उसने बूढ़े आदमी से पूछो तुम चक्की क्यों चला रहे हो तब बूढ़े आदमी ने कहा तुम चक्की चलाओ मैं तुम्हें सांस लेकर सब कुछ बताता हूं। उसने उस बूढ़े आदमी की बात मान ली और चक्की चलाने लगा। जैसे ही चक्की उसने अपने हाथ में पकड़ी और चलाना शुरू करें वह बूढ़ा आदमी हंसने लगते हैं।
Kid story in hindi | best kid story in hindi
Kid story in hindi

तो उसने पूछा कि तुम हंस क्यों रहे हो तो उस बूढ़े आदमी ने कहा तुम भी मेरी तरह लालची निकले यह सुनकर उसने चक्की को चलाना धीरे कर दिया। फिर बूढ़े आदमी ने धमका कर कहा चक्की चलाना  मत बंद करना। अगर तुम्हें चक्की चलाना बंद करो तो यह महल गिर जाएगा और तुम मर जाओगे यह महल तब तक खड़ा है जब तक तुम चक्की चला रहे हो। काफी सालों पहले मैं भी लालच के चक्कर में इधर आ गया और फस गया मेरी पूरी जवानी इसी चक्की चलाने में गुजर गई और तुम भी लालच के चक्कर में इधर आए अब तुम्हें भी सारी उम्र चक्की चलाते रहना पड़ेगा जब तक तुम्हारी जगह कोई और नहीं आता। वह लालची आदमी चक्की चलाते चलाते रोने लग गया और उस बूढ़े आदमी से पूछे लगा कि अब तुम बाहर जाकर क्या करोगे तो उस बूढ़े आदमी ने जवाब दिया। 
कि मैं बाहर जाकर सबको यही बताऊंगा और समझा लूंगा की लालच बहुत बुरी बला है हमें कभी लालच नहीं करना चाहिए।
अगर आपको kid story अच्छी लगी हो तो प्लीज इसे शेयर कीजिए।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां