3 भूत की कहानियां | bhoot ki kahaniya | bhoot ki kahani in hindi

This is the best bhoot ki kahani hindi | भूत की कहानियां | bhoot ki kahaniya

3 भूत की कहानियां | bhoot ki kahaniya | bhoot ki kahani in hindi


भूत की कहानियां | Bhoot ki kahaniya in hindi

दोस्तों यह bhoot ki kahaniya आपको जरूर पढ़ने में मजा आएगा। आपसे निवेदन है कि आप यह bhoot ki kahaniya पूरी पढ़ें।

चलिए bhoot ki kahani की शुरुआत करते हैं।

1. चुड़ैल की कहानी |  best bhoot ki kahani

एक बार एक गांव में एक लड़की रहती थी। वह दिखने में बहुत सुंदर थी। लेकिन गांव वालों का कहना था कि उस लड़की के अंदर एक चुड़ैल है। जो अमावस्या की रात आंख और गांव वालों को मार देती है। जब पीना किसी काम वाले के पास जाती तो गांव वाले डर के मारे वहां से भाग जाते। कोई उसके साथ रहना पसंद नहीं करता था। उसके पिता भी कहते थे उसके अंदर कोई बुरा साया है।

कुछ दिन बाद अमावस्या की रात आने वाली थी। अमावस्या की रात को चुड़ैल 2 लोगों को मार देती थी। अमावस्या की रात वाले दिन मैं शाम के समय बाहर गई हुई थी तो रास्ते में उसे 3 अय्याशी करने वाले लोग दिखे फिर उन तीनों में से एक लड़का क्या था यार वो देख कितनी सुंदर है तो दूसरा लड़का कहता मैंने सुना है इस पर किसी चुड़ैल का साया है।
3 भूत की कहानियां | bhoot ki kahaniya | bhoot ki kahani in hindi
Bhoot ki kahaniya


 उसकी बातें सुनकर बाकी दोनों लड़के हंसने लग गए और कहने लग गई चुड़ैल वगैरह कुछ नहीं होता सब दिल का वहम होता है तो जिस ने कहा था कि उस पर चुड़ैल का साया है वह तो डर के मारे वहां से चला गया पर अब तो लड़के रह गए थे एक लड़के ने प्लान बनाया कि तुम इस लड़की को कहना कि तुम्हारे पिताजी को शेर उठाकर ले गया है। चलो मेरे साथ मैं तुम्हारे पिताजी के पास नहीं चलता हूं तो वह जन्नत की लड़की उस लड़के साथ चली जाती है रास्ते में एक गुफा मिलती है तो वह लड़का उसे कहता है कि क्या पता तुम्हारे पिता को शेर  इसी गुफा में ले गया होगा। तो वह तो ना गुफा कहना चाहते हैं तो उन्हें कुछ नहीं दिखता और पीछे से दूसरा लड़का भी आ जाता है जोर जोर से हंसने लगता है।

Asli bhoot ki kahani | bhoot ki kahaniya 

फिर वह लड़की कहती है प्लीज मुझे जाने दो यहां से मैं तुम्हें से विनती करती हूं।
वह दोनों लड़के लड़की की बात नहीं मानते और उससे कहा जबरदस्ती करना शुरू कर देते हैं। वह लड़की जोर जोर से रोने लगती है चीखने लगती है फिर पता नहीं क्या होता है उस लड़की के हाथ के नाखून एकदम बड़े हो जाते हैं उसके हाथ के बड़े नाखूनों को देखकर वह लड़के डर जाते हैं और इस लड़की से कहते हैं यह क्या हो रहा है तुम्हें।
लड़के डर के मारे वहां से भागने की कोशिश करते हैं तो वह लड़की एकदम चुड़ैल का रूप ले लेती है और अपने हाथ को सीधा करती है उसका हाथ इतना लंबा हो जाता है वहां से लड़कों को खींच कर वापस अपनी तरफ ले आती है फिर उन लड़कों के साथ छोड़ देती है अपने नाखूनों से उनके साले को शरीर से अलग कर देती है।
जब यह बात गांव वालों को पता चलती है तो गांव वाले  उस लड़की को जिंदा जला देते हैं और उसे मार देते हैं।

कैसी लगी आपको यह bhoot ki kahani.
अगर आपको यह bhoot ki kahani अच्छी लगी तो नीचे कमेंट जरूर करें।

Bhoot ki kahaniya in hindi | bhoot ki kahaniyan in hindi

अगली bhoot ki kahani


दोस्तों यह bhoot ki kahani भी आपको जरूर पसंद आएगी।
चलिए बिना किसी देरी के अगली bhoot ki kahani को शुरू करते हैं।

2. गांव का कुआं | bhoot ki kahani in hindi

एक गांव में एक बहुत बड़ा कुआं था। सब कुछ ठीक चल रहा था। फिर एक दिन जब कुछ और देवासी गांव के कुएं से पानी ने कहा रही थी तब बाल्टी कुएं में ही अटक गई। फिर उन्होंने अपने घर जाकर बनाया कि कुएं में बाल्टी अटक गई है। फिल्म गांव के सारे आदमी उस हुए के पास है उन्होंने बाल्टी को कुएं में डाला और बाल्टी को कुएं से बाहर निकाल लिया तब तो बाल्टी को बाहर निकालने में कोई दिक्कत नहीं हुई लेकिन जैसे ही बाल्टी को पुणे से बाहर निकाला एकदम कुए का पानी ऊपर आ गया और कुएं के पानी में उस आदमी को गिरा दिया तो सारे डर गए कि कुएं में भूत है और सारे डर के मारे वहां से भाग गया उस दिन के बाद उस कुएं की तरफ कोई नहीं जाता था सारे उसको एक तरफ जाने से डरते थे।
फिर कुछ दिन बाद उसी का हूं मैं एक रिंकू नाम का लड़का है। तो गया उसको में की तरफ गया सभी लोगों से मना करने लगते हैं कि उसमें की तरफ मत जाओ लेकिन वह किसी की नहीं सुनता और उस कुएं की तरफ जाता है जब वह उस कुएं की तरफ जाता है तो उसको कुछ नहीं होता वह आराम से जाता है और बाल्टी से पानी निकाल लेता है और अपने दोस्तों को कहता है और ऐसा कुछ भी नहीं है। फिर पूरी तरह से पता लगाने के लिए अभी रात को उस कुएं के चरण जाने के बारे में सोचता है।

भूत की कहानी | bhoot ki kahani in hindi

रात करीब 12:00 बजे वह उस कुएं की तरफ जाता है और पास में ही कहीं पेड़ के पीछे छुप जाता है।
तो रात होते ही उस कुएं में से आवाज है सुनाई देने लग जाते हैं। पहले तो वह डर जाता है और वापस घर जाने के बारे में सोचता है। फिर कुएं में से आवाज आती है कि तुम डरो मत मैं तुम्हें कुछ नहीं करूंगा।
3 भूत की कहानियां | bhoot ki kahaniya | bhoot ki kahani in hindi
Bhoot ki kahani in hindi


यह सुनकर वह हैरान हो जाता है। की कुएं में से कैसे आवाज आ रही है। तब वह धीरे-धीरे कुएं के पास जाता है। तो उसे कुएं के पास एक साया दिखाई देता है। उधर से आवाज आती है फिर तुम डरो मत मैं तुम्हें कुछ नहीं करूंगा बस मुझे तुम अपने घर जाना है। तो फिर  रिंकू कहता है। मैं तुम्हारी मदत करूंगा बताओ तुम कहां पर रहते हो। एक भूत का बच्चा था उसने कहा कि मैं उस पहाड़ी के पीछे रहता हूं तुम मुझे ना जाने पर मदद करो।

तो फिर जैसा-जैसा भूत के बच्चे ने कहा वैसे कैसे रिंकू करता गया। रिंकू ने किसी तरह भूत के बच्चे को पहाड़ी के पीछे छोड़ आया और दोबारा सब गांव में खुशी-खुशी रहने लग गए।
आशा करता हूँ आपको यह bhoot ki kahani पूरी पढी होगी।

अगर आपको यह bhoot ki kahani पसंद आए तो नीचे कमेंट जरूर करें।


भूत की कहानी | bhoot ki kahani hindi | best bhoot ki kahaniya

Panchtantra ki kahani in hindi

चलो दोस्तों अब अगली bhoot ki kahani शुरू करते हैं।
आशा करता हूं आपको यह bhoot ki kahani पढ़ने में मजा आएगा।
3. पत्नी की भटकती आत्मा | bhoot ki kahani in hindi

एक बार एक गांव में पति पत्नी रहते थे। पत्नी तो बहुत अच्छी थी मैं घर का सारा काम करती थी और अपनी पति की सारी बातें माना कर दी थी लेकिन उसका पति उसे बड़ा मारता था बड़ा अत्याचार करता था उसे बात बात पर टोकता रहता था। पत्नी अपने पति के अत्याचारों को सहन नहीं कर पाई फिर एक दिन उसने अपने आप को फांसी लगा ली फांसी लगाने के बाद पत्नी के आत्मा भटकने लग गई वह किसी पेड़ पे रहने लग गई।
जब भी कोई आदमी उस पर से गुजरता था तो वह उसेbh डरा कर भगा देती थी लेकिन जब कोई महिला उस पेड़ से गुजरती थी तो उसे कुछ नहीं कहती थी क्योंकि उसे आदमियों से नफरत हो चुकी थी जो उसके पति ने उसके साथ किया वह बहुत बुरा था। उस आत्मा को लगता था कि सारे आदमी एक जैसे होते हैं इसलिए वह सारे आदमियों को डराती थी और वहां से भगा देती थी।
एक दिन एक सुंदर लड़की उस पेड़ के नीचे बैठकर रोने लग गई तो वह आत्मा उसके पास आई और उससे पूछा कि तुम रो क्यों रही हो क्या तुम्हें मुझे देख कर डर नहीं लग रहा तो उस लड़की ने कहा नहीं मुझे डर नहीं लगता मैं तो यहां खुद मरने के लिए आई हूं तब आत्मा ने उससे उससे मरने की वजह पूछी। उस लड़की ने बताया कि मैं जिस लड़के से प्यार करती हूं उसके पिताजी बहुत बड़े आदमी हैं और हम से बहुत सारा दहेज मांग रहे हैं मेरे पिताजी बहुत गरीब है मैं इतने सारा दहेज नहीं दे सकते फिर उस आत्मा ने बताया की शादी मत करो मैं तुम्हें कह रही हूं शादी करने के बाद तुम पर जुल्म करेगा तुम्हें मारेगा और तुम भी फिर मेरी तरह ही ऐसे मर जाओगी मेरे पति मुझ पर फूल ज्यादा जुर्म करते थे मुझे मारते थे। मैंने खुद को फांसी लगा ली और यहां पर आत्मा बनकर रहती हूं। लड़की ने कहा अगर तुम्हारा पति बोला था इसका मतलब यह तो नहीं कि सारे पति बुरे हो इस दुनिया में आज भी अच्छे इंसान हैं।

Bhoot ki kahaniya | bhoot story in hindi

लड़की के यह कहने पर आत्मा को उस पर दया आ गई।
तो उस आत्मा ने कहा ठीक है मैं तुम्हारी मदद करूंगी।
इसके बाद वे आत्मा उस अमीर आदमी की पत्नी में जाकर घुस गई। उससे सारे काम करवाने लगी उसे मारने लगी उसे तंग करते थे ताकि वह उसकी शादी के लिए मान जाए।
फिर एक दिन उसके पति को शक हो गया तो उसने एक तांत्रिक को बुलाया तांत्रिक में उसकी पत्नी पर झाड़ा करा।
आपको पता लग गया था फिर इसके अंदर कोई आत्मा है लोकतांत्रिक ने उससे पूछा कि तुम यहां पर क्या करने आई हो और तुमने इस शरीर को क्यों अपने कब्जे में कर रखा है तो उस आत्मा ने बताया कि यह आदमी अपने बेटे का विवाह एक गरीब लड़की से करने पर बहुत सारा दहेज मांगा था मैं बस उसी गरीब लड़की की मदद करने आई हूं जब तक या उसकी शादी उसे नहीं करवाएगा मैं यहां से नहीं जाऊंगी।
3 भूत की कहानियां | bhoot ki kahaniya | bhoot ki kahani in hindi
bhoot ki kahaniya

तो यह सुनकर वह जमीदार बहुत डर गया और कहने लगा कि मैं अपनी  बेटे की शादी उस गरीब लड़की से करवा दूंगा। तुम बस यहां से चली जाओ यह सुनकर अब वह आत्मा ने उसकी पत्नी को छोड़ दीया और वहां से चली गई।
उस दिन बाद उसने अपने बेटे की शादी उस गरीब लड़की से करवा दी।

अगर आपको यह bhoot ki kahani नीचे कमेंट जरूर करें।

आशा करता हूं आपको यह तीनों bhoot ki kahaniya
पढ़ने में मजा आया होगा।

अगर आपको यकीन है bhoot ki kahaniya  अच्छी लगी तो प्लीज इसे शेयर कीजिए।

यह कहानियां भी जरूर पढ़ें


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां